Shri Hanuman Bhajan – Aaj Mangalvaar Hai Hindi Lyrics


[wptabs style=”wpui-alma” effect=”fade” mode=”horizontal”]

[wptabtitle] Hindi[/wptabtitle] [wptabcontent]

आज मंगलवार है महावीर का वार है, ये सच्चा दरबार है
सचे मन सो जो कोइ ध्यावे उसका बेड़ा पार है

चेत सुदीप पूनम मंगल का जन्म वीर ने पाया है, जन्म वीर ने पाया है,
चेत सुदीप पूनम मंगल का जन्म वीर ने पाया है, जन्म वीर ने पाया है,
लाल लंगोट गदा हाथ है, सिर पर मुकुट सजाया है, सिर पर मुकुट सजाया है
शंकर का अवतार है, महावीर का वार है,

सचे मन सो जो कोई ध्यावे उसका बेड़ा पार है
आज मंगलवार है, महावीर का वार है, यह सच्चा दरबार है…

ब्रह्माजी के ब्रह्म ज्ञान का फल भी तुम ने पाया है, फल भी तुमने पाया है
राम काज शिव शंकर ने वानर का रूप धार लिया है, वानर का रूप धार लिया है
लीला अपारम्पार है, महावीर का वार है,

सच मन सो जो कोई ध्यावे उसका बेड़ा पार है
आज मंगलवार है, महावीर का वार है, यह सच्चा दरबार है

बालापन में महावीर ने हरदम ध्यान लगाया है, हरदम ध्यान लगाया है
शरण दिया ऋषियों ने तुम को, ब्रह्म ध्यान लगाया है, ब्रह्म ध्यान लगाया है
राम रामा रार है, महावीर का वार है

सचे मन से जो कोई ध्यावे उसका बेड़ा पार है
आज मंगलवार है, महावीर का वार है, यह  सच्चा दरबार है

राम जन्म हुआ अयोध्या में कैसा नाच नचाया है, कैसा नाच नचाया है
कहा राम ने लक्ष्मण से यह वानर मन को भाया है वानर मन को भाया है
राम चरण से प्यार है महावीर का वार है

सचे मन जो कोई ध्यावे उसका बेड़ा पार है
आज मंगलवार है, महावीर का वार है, यह सच्चा दरबार है

पंचवटी से माता को जब रावण लेकर आया है, रावण लेकर आया है
लंका में जाकर तुम ने माता का पता लगाया है, पता लगाया है
आख्शार कुमार है, महावीर का वार है,

सचे मन से जो कोई ध्यावे उसका बेड़ा पार है
आज मंगलवार है, महावीर का वार है, यह सच्चा दरबार है

मेघनाथ ने ब्रह्म पाश में तुमको आन फँसाया है, तुमको आन फँसाया है
ब्रह्मपाश में पुष्कर के ब्रह्मा का मान बढ़ाया है,ब्रह्मा का मान बढ़ाया है,
बज्रंगी वा की मार है, महावीर का वार है,

सचे मन सो जो कोई ध्यावे उसका बेड़ा पार है,
आज मंगलवार है, महावीर का वार है, यह सच्चा दरबार है

लंका जलाई आपने जब रावण भी घबराया है, जब रावण भी घबराया है
श्रीराम लखन को आन कर माँ का संदेश सुनाया है, माँ का संदेश सुनाया है
सीतां शौक अपार है, महावीर का वार है,

सचे मन सो जो कोई धवाई उसका बेड़ा पार है
आज मंगलवार है, महावीर का वार है सचे ,यह सच्चा दरबार है

[/wptabcontent]

[wptabtitle] English[/wptabtitle] [wptabcontent]

Aaj mangalvaar hai, mahaveer ka vaar hai, ye sacha darbaar hai,
sacche mann se jo koi dhyaave uska bera paar hai

Chhait sudeep punam mangal ka [janam veer ne paaya hai – 2]
Laal langoat katha haath hai, sirpar mukut sajaaya hai…sirpar mukut sajaaya hai
Shankar ka avtar hai, mahaveer kavaar hai, sache mann se jo koi…..

Brahmaji ke brahma gyaan ka, phal bhi tum ne paaya hai…phal bhi tum ne paaya hai
Raam kaaj shiva Shankar ne vanar kaa roop dhaariya hai, maa vanar kaa roop dhaariya hai
leela aparam paar hai, mahaveer kavaar hai, sache mann se jo koi…..

Baala pan mein mahaveer ne haradam gyaan lagaaya hai…haradam gyaan lagaaya hai
Shram diya rishiyo ne tum ko, brahm dhyaan lagaaya hai…brahm dhyaan lagaaya hai
Oh…ram rama raar hai, mahaveer kavaar hai, sache mann se jo koi…..

Raam janam hu ayodhya mein kaisa naach nachhaya hai…kaisa naach nachaaya hai
Kaha raam ne lakshman se yaha Vaanar manko bhaaya hai…vaanar manko bhaaya hai
Raam charan se pyaar hai, mahaveer kavaar hai, sache mann se jo koi……

Panchavatie se maata ko jab raavan lekar aaya hai…raavan lekar aaya hai
Lanka mein jaa kar tum neva maata ka paata lagaaya hai…maata ka paata lagaaya hai
Aakhshaar kumaar hai, mahaveer kavaar hai, sache mann se jo koi…….

Meghanaath mein brahm paash mein tum ko aan pasaaya hai…tum ko aan pasaaya hai
Brahm paash mein paskar ke Brahma ka maan baraaya hai…brahma ka maan baraaya hai
Bajarangjivaad-ki maar hai, mahaveer kavaar hai, sache mann se jo koi …..

Lanka jalaayi aapa-ne jab raavan bhi ghabaraaya hai…jab raavan bhi ghabaraaya hai
Shri raam lakhan ko aana kara maa ka sandesh sunaaya hai…maa ka sandesh sunaaya hai
Sita shok apaar hai, mahaveer kavaar hai, sache mann se jo koi …….
Aaj mangalvaar hai, mahaveer kavaar hai, ye sacha darbaar hai, sacche mann se jo koi dhyaave uska bera paar hai…

[/wptabcontent]

[/wptabs]

 


Speak Your Mind

*